Friday , 25 May 2018
Breaking News

अब OLX से खरीदें और बेंचे गाय-भैंसे, ऑनलाइन पेमेंट और होम डिलवरी भी…



अभी तक तो आपने OLX से गैजेट्स, गाडियां और रोजमर्रा की चीजें खरीदी-बेंची होंगी. लेकिन अब OLX पर गाय, भैंसे और पालतू जानवर भी बेंचे जा रहे है.

rohtak_111016_olx_1_14762

OLX के जरिए अपनी गाय-भैंसों का सौदा करने वाले किसानों को खूब मुनाफा हो रहा है. बड़े शहरों के अलावा छोटे कस्बों के तकरीबन 150 किसान इन साइट्स पर एक्टिव हैं. जहां उन्हें इससे खरीद-फरोख्त के काम में काफी सहूलियत हो रही हैं वहीं वे इससे पहले के मुकाबले काफी ज्यादा पैसा कमा रहे हैं.

olx_1476209742

इसमें सबसे ज्यादा किसान हरियाणा के है. करनाल, फरीदाबाद जैसे बड़े शहरों के अलावा महम, लाखनमाजरा, दादरी और डबवाली छोटे कस्बों के सैंकड़ों किसान ऑनलाइन खरीद-फरोख्त की साइट्स पर का इस्तेमाल कर रहे हैं. सफीदों के रहने वाले सन्नी सिंगला का कहना है कि उन्होंने 1.5 लाख रुपए की भैंस का ब्योरा अपलोड किया था. उनके पास दूर-दराज के स्टेट से भी फोन आए. वहीं, करनाल के राजेंद्र ने बताया कि वे हर महीने 4 से 5 गाय-भैंस बेचते हैं. करनाल के ही कारोबारी अमित गुप्ता ने बताया कि वे हर महीने 20 से ज्यादा जानवर बेचते हैं. जिसके 100 से 150 तक रिस्पॉन्स आते हैं. डील फाइनल होने के बाद पेमेंट लेते हैं. फिर डिलीवरी देते हैं.

lous_1476209742

किसानों के मुताबिक गांय भैंसे की ऑनलाइन पेमेंट और होम डिलीवरी भी होती है. साइट्स पर किसान और कारोबारी जानवरों का ब्योरा अपलोड करते हैं. इसके बाद चैट बॉक्स खुल जाता है या फिर मोबाइल पर खरीदारों के फोन आने लगते हैं. मोलभाव के बाद पार्टी खुद आकर जानवरों को देखती है. कई लोग ऑनलाइन पेमेंट करके अपने पते पर डिलीवरी लेते हैं. हर नस्ल की गाय-भैंसें के अलावा कुत्ते-बिल्ली भी बेंचे जाते है. OLX पर साहीवाल, देसी, एचएफ, जरसी, क्रॉस ब्रीड गाय के साथ-साथ मुर्रा नस्ल की भैंस भी मिलती हैं. इन ऑनलाइन साइट्स पर दुधारु जानवरों के अलावा कुत्तों, बिल्लियों, बकरों और घोड़ों की भी खरीद-फरोख्त का कारोबार हो रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>